Friday, 27 March 2015

कसूर

रोमिल आइना तुम्हे कहाँ सच्चाई बता पायेगा
मेरी नज़रों में देखो तुमको तुम्हारा कसूर समझ आ जायेगा...

No comments:

Post a Comment