Monday, 25 January 2016

लोगों के मुँह से तुझे आवारा सुनकर चाँद

Logon ke mooh se tujhe awara sunkar Chand
Main sochane laga ki tu kab bhatak kar mere aangan mein aayega.

- Romil


लोगों के मुँह से तुझे आवारा सुनकर चाँद
मैं सोचने लगा कि तू कब भटक कर मेरे आँगन में आएगा.

- रोमिल .

No comments:

Post a Comment