Tuesday, 2 February 2016

वसुधैव कुटुम्बकम्... मंदिर

वसुधैव कुटुम्बकम् .... मंदिर का जो कॉन्सेप्ट है वह वसुधैव कुटुम्बकम् का है.... "the world is one family" .... हम भगवान की भी पूजा करते है, हम देवताओं की भी पूजा करते है, हम पशु-पक्षी-पेड़-पौधे की भी पूजा करते है... हम कुबेर (यक्ष) की भी पूजा करते है... हम गुरुओं की भी पूजा करते है... राक्षाओं, दानवों की भी पूजा होती है...

यह संसार हमारा परिवार है और हम अपने परिवार के हर सदस्य की पूजा करते है...

No comments:

Post a Comment